Monday, August 19, 2019
Home > defence > बालाकोट में ‘292 आतंकवादियों की मौत’ के दावे का सच-बड़ा ख़ुलासा पाक से

बालाकोट में ‘292 आतंकवादियों की मौत’ के दावे का सच-बड़ा ख़ुलासा पाक से

सोशल मीडिया पर एक कथित व्हॉट्सऐप चैट के हवाले से ये दावा किया जा रहा है कि पाकिस्तान के बालाकोट में हुए भारतीय वायु सेना के हमले में 292 आतंकवादियों की मौत हुई थी.

जिन लोगों ने व्हॉट्सऐप ग्रुप्स में और फ़ेसबुक ग्रुप्स में इस कथित बातचीत के स्क्रीनशॉट शेयर किए हैं, उन्होंने दावा किया है कि ये बातचीत उनके किसी भारतीय दोस्त और बालाकोट में रहने वाले ‘डॉक्टर इजाज़’ नाम के किसी शख़्स के बीच हुई है.

अधिकांश लोगों ने इसी दावे के साथ 3 स्क्रीनशॉट शेयर किए हैं.

कुछ लोगों ने ये भी दावा किया है कि ‘जिस शख़्स का नाम स्क्रीनशॉट में दिख रहा है, वो बालाकोट में ही डॉक्टर है और जिस दिन एयर-स्ट्राइक हुई वो घटनास्थल के पास ही मौजूद थे. इसलिए वो मृतकों का सही आंकड़ा बता सकते हैं’.

फ़ेसबुक पोस्ट

स्क्रीनशॉट में है क्या?

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे इस ‘चैट’ पर नज़र डालें तो इसकी शुरुआत कुछ इस तरह से होती है:

पात्र 1: अरे भाई ये क्या है… कल जो एयर स्ट्राइक की है इंडियन आर्मी ने… ये सच्ची ख़बर है है या मीडिया यूं ही दिखा रही है?

पात्र 2: जनाब, एयर फ़ोर्स के कुछ प्लेन घुस गए थे बालाकोट और नज़दीकी एरिया में… पर ये ग़लत है ना एलओसी क्रॉस करना… ख़ैर अल्लाह रहम करे.

पात्र 1: हाँ, कुछ 12 प्लेन गए थे… पर यार पाकिस्तान का जैश-ऐ-मोहम्मद हमला करवाता है तो इंडिया जवाब तो देगा ही ना… और भाई ये बताओ कितने लोग मारे गए?

पात्र 2: भाई… कोई लोकल नहीं मारा गया… जो मारे गए वो चरमपंथी थे… हम ख़ुद इनसे परेशान थे.

इसके बाद की कथित बातचीत का हिस्सा ये है जिसे सोशल मीडिया पर सबसे ज़्यादा बार शेयर किया गया है.

इस स्क्रीनशॉट में मृतकों की संख्या तक़रीबन उतनी ही बताई गई है जितनी हमारे यह भारत के  मीडिया चैनल सूचनाओं के आधार पर बताते रहे हैं.

भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह ने भी रविवार को इस हमले में 250 से ज़्यादा आतंकवादियों के मारे जाने की बात कही थी.

भारतीय वायु सेना प्रमुख बीएस धनोआ ने सोमवार को कहा कि हमले में मारे गए लोगों की संख्या गिनने का काम वायु सेना का नहीं है. वायु सेना को जो लक्ष्य दिए गए थे, वो उन्होंने हिट किए.

भारत सरकार ने आधिकारिक तौर पर इस हमले में मारे गए लोगों की संख्या पर कोई बयान जारी नहीं किया है.

मैसेज – सच या झूठ?

जिस व्हॉट्सऐप मैसेज के आधार पर लोग 292आतंकवादियों के मारे जाने की बात कही जा रही है वह पूर्ण रूप से सही है . व्हॉट्सऐप मैसेज की पड़ताल के आधार पर यह बात सच साबित हुई है की जो भी292 आतंकवादी वहाँ मारे गए है वहाँ के लोकल निवासी इस बात को अड्मिट कर रहे है की वहाँ  भारी मात्रा में कैज़ूअल्टी हुई थी ,भारतीय आर्मी क़हर बनकर टूटी थी  पूरा पाक थर्राया हुआ है

 

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *